Saturday, January 28, 2023
HomeBewafa ShayariWo Bewafa Hai Shayari 💔 बेवफा शायरी इन हिंदी

Wo Bewafa Hai Shayari 💔 बेवफा शायरी इन हिंदी

Bewafa Shayari - जानते हैं वो बेवफा है,

जानते हैं वो बेवफा है, हर बार ये बात उस से छुपाते हैं।

वो सितम ढा के मुस्कुराते हैं, हम दर्द लेले मुस्कुराते हैं।

Know that he is unfaithful, every time hide this thing from him.

They smile after giving pain, we smile after taking pain.

Bewafa Sad Shayari

Bewafa Shayari - ज्यों ज्यों गहरी होती है ये बेहया रात,

ज्यों ज्यों गहरी होती है ये बेहया रात, यादों के कारवाँ चले आते हैं।

वो बेवफा तो भूल गया, मगर हम पास एक तकिया और सजाते हैं।

As this shameless night gets deeper, the caravans of memories keep coming.

That unfaithful forgot, but we decorate another pillow nearby.

Bewafa Sad Shayari

Bewafa Shayari - वो था सितम सह तो रहे थे,

वो था सितम सह तो रहे थे, उसके जाने के बाद जख्म भरते नहीं है।

उस बेवफा का जिक्र होठो पर ही जाता है, हम याद करते नहीं हैं।

If he was there, then he was still suffering, after his departure, the wounds do not heal.

The mention of that unfaithful person comes on the lips, we do not remember

Bewafa Sad Shayari

Bewafa Shayari - अंधेरे झरोखों से झांक लेते उजाले को,

अंधेरे झरोखों से झांक लेते उजाले को, काश मेरी आँखों के आंसू थम जाते।

बहारो संग मुस्कुराता दिल मेरा भी, अगर उस बेवफा के सितम भूला पाते।

Peeping the light through the dark windows, I wish the tears in my eyes would stop.

My heart also smiles with the flow, If only I could forget the tortures of that unfaithful.

Bewafa Sad Shayari

Bewafa Shayari - ये कैसा दस्तूर है इश्क का,

ये कैसा दस्तूर है इश्क का, जो जीवन भर का रोना होता है।

क्यों बेकसूर को ही जिंदगी भर का चैन सुकून खोना होता है।

What kind of custom is this of love, which cries for a lifetime.

Why only the innocent have to lose the peace of life

Bewafa Sad Shayari

Bewafa Shayari - कैसा है ये शहर तेरा,

कैसा है ये शहर तेरा, जो मिला खुदगर्ज मिला।

वफ़ा लेने आये, हमे बेवफा हमसफ़र मिला।

How is this city of yours, whatever you got, you got proud.

Came to take loyalty, we got an unfaithful partner

Bewafa Sad Shayari

Bewafa Shayari - कागज के फूल बिकते हैं यहाँ,

कागज के फूल बिकते हैं यहाँ, इश्क की कोई जिन्दा कली ना खिली।

शोहरत के बाजार तो खूब सजे हैं तेरे शहर में, मगर वफ़ा ना मिली।

Paper flowers are sold here, no living black flower of love blossomed

The markets of fame are well decorated in your city, but did not get loyalty.

Bewafa Sad Shayari

Bewafa Shayari - हुसन के खरीदार तो बहुत मिले,

हुसन के खरीदार तो बहुत मिले, यहाँ इश्क़ का कदरदान नहीं।

मोहब्बत के बदले मोहब्बत लुटा दे, तेरे शहर में ऐसा इंसान नहीं।

There are many buyers of Hussan, there is no appreciation of love here.

Give love in return of love, there is no such person in your city.

Bewafa Sad Shayari
- -

Stay Connected

16,985FansLike
2,458FollowersFollow
61,453SubscribersSubscribe

Must Read

Related News