Viral Shayari, वायरल शायरी, - याद तेरा आना by G.Shastri

याद तेरा आना, रह - रह कर दिल 💕 को जलाना। क्या तुझे गवारा है, मुझको यूं रुलाना 😭 ।

अगर इरादा था ना मोहब्बत 🫶 निभाने का। किया क्यों कुसूर मुझे तड़पाने का।

अगर ऐसा ही करना था, तो की क्यों मुझसे मोहब्बत 😘 क्या मेरी वफ़ा की यही अदा करनी थी कीमत।

ये ना सुना था यार भी बदल जाता है, जब बदले जमाना। क्या तुझे गवारा है, मुझको यूं रुलाना 😭 । याद तेरा आना, रह - रहकर दिल 💕 को जलाना। क्या तुझे गवारा है, मुझको यूं रुलाना 😭 ।

सोचा ना मोहब्बत 🫶 मेरी खता बनेगी, मोहब्बत 🫶 की सजा मिलेगी। प्यार के गुलशन ☘️ तो सजे, ये ना जाने के कोई कली 🌹ना खिलेगी।

मिला क्या तुझे अ बेरहम दिल 💓 मेरा तोड़ के। ज़िंदगी से ज़िंदगी 💫 का नाता तोडा, गमो से नाता जोड़ के।

क्यों मुश्किल 😤 हो गया मुझे, प्यार करके प्यार 🥰 निभाना। क्या तुझे गवारा है, मुझको यूं रुलाना 😭 । याद तेरा आना, रह - रहकर दिल 💕 को जलाना। क्या तुझे गवारा है, मुझको यूं रुलाना 😭 ।

ज़िंदगी 💫 की राहों में तन्हाँ अकेले रह गए। देख यार तेरे हर सितम हंस हंस 🤒 के सह गए।

यूं ना ढा तू नादान-ए-दिल 💕 पर सितम। रिसने लगे हैं दिल 💕 पर दिए जख्म।

अब सहा ना जायेगा, रो रहा दिल 💕 दीवाना। क्या तुझे गवारा है, मुझको यूं रुलाना 😭 । याद तेरा आना, रह - रहकर दिल 💕 को जलाना। क्या तुझे गवारा है, मुझको यूं रुलाना 😭 ।