Sadness

Dard Shayari in Hindi 2 Line | Love Broken Heart Shayari in Hindi

G. Shastri

क्यों लोग मोहब्बत करके दगा किया करते हैं। इश्क़-ए-वफ़ा के नाम पर धोखा दिया करते हैं।

लोग तेरे शहर में मुखौटे लगा के जीया करते हैं। मुँह पर अपने से, पीठ पीछे फरेब किया करते हैं।

आदत तो नहीं थी बस गम छुपाने के लिए मुस्कुराया करते हैं। तेरे दिए जख्म ताजा रखने के लिए महफ़िल सजाया करते हैं।

सिसक के रह जाती है रात, कभी मोहब्बत का तकिया बना के सोती थी। अब वो बात नहीं उससे मुलाकात में, जो मेरे बिखरने से पहले होती थी।

दर्द तो नहीं माँगा था रब्ब से, बिन मांगे नसीब हो गया। अब वहां कब्र बनी है जज्बातों की, जहां दिल खो गया।

सोचा वफ़ा के बदले मुस्कान मिलेगी, ठगे गए हम वहां से आंसू ले आये। गए थे कुछ पाने की ख्वाहिश लेकर, हम अपना चैन सुकून भी दे आये।

जीने जैसी ज़िंदगी कहाँ है, क्यों इसे जीये जा रहे हैं। कब के मयखाने बंद हो गए, हम तन्हां पीये जा रहे हैं।

मर मर के जीये जा रहे, इश्क़ का ये मिला इनाम हैं। पता बताने जैसा पता नहीं, ये ज़िंदगी मेरी गुमनाम है।