Tute Rishte Shayari | टूटे रिश्ते शायरी इन हिंदी

Tute Rishte Shayari - मुफलिसी की हवा लगी,

मुफलिसी की हवा लगी, टूट के चूर हुए दिल के दिल से रिश्ते नाते।

सच हो गए महलो देखे ख्वाब, अब ना वो मेरी गली कूचे में हैं आते।

There was an air of failure, a relationship with a broken heart.

Dreams have come true, now they are not in my street.

Tute Rishte Shayari

Tute Rishte Shayari - अनजान रहे उस खता से,

अनजान रहे उस खता से, जिसके लिए वो मुझसे तलूक रखना छोड़ गए।

मोहब्बत की कस्ती में बैठा के, बिच मझधार वो दिल का रिश्ता तोड़ गए।

Unknown to the letter, for which he stopped keeping a relationship with me.

In the middle of love, he broke the relation of heart.

Tute Rishte Shayari

Tute Rishte Shayari - जब तोड़ना ही था मुझसे रिश्ता,

जब तोड़ना ही था मुझसे रिश्ता, मेरी आँखों को ख्वाब दिखाए क्यू ?

अ खुदा तू बता, जब जनता था वो बेवफा हैं, फिर दिल मिलाए क्यू ?

When I had to break the relationship with myself, why should I show dreams with my eyes?

Oh God, tell me when people used to be unfaithful, then why should you join hearts?

Tute Rishte Shayari

Tute Rishte Shayari - उसे कभी कदर ही ना थी रिश्ते नातो की,

उसे कभी कदर ही ना थी रिश्ते नातो की, वो पैरों तले रोंदते रहे।

हम गम-ए-सितम सहते रहे, वो दर्दो का पहाड़ हम पर तोड़ते रहे।

He never appreciated the relationship of Nato, he kept crying under his feet.

We kept on suffering, they kept breaking the mountain of pain on us.

Tute Rishte Shayari

Tute Rishte Shayari - खता उसकी कहु के मेरी,

खता उसकी कहु के मेरी, रिश्तो की डोर थमाई उसने खाख में मिला दी।

जरा फ़िक्र ना हुई, कच्चे हैं धागे रिश्तो के, उसने तो आश ही मिटा दी।

He gave me the door of his relationship, he added it to the food.

Don’t worry, the threads are raw for the relationship, he has destroyed the hope

Tute Rishte Shayari

Tute Rishte Shayari - गर जोड़ भी दू कच्चे धागों के रिश्ते,

गर जोड़ भी दू कच्चे धागों के रिश्ते, पहले सी बात ना होगी।

आंसू होंगे रात के अँधेरे में, अब वो जगमगाती रात ना होगी।

Even if you add to the relationship of raw threads, it will not be the same thing as before.

There will be tears in the darkness of the night, now it will not be a shining night.

Tute Rishte Shayari

Tute Rishte Shayari - रेत से बिखर गए कच्ची डोर से बंधे रिश्ते,

रेत से बिखर गए कच्ची डोर से बंधे रिश्ते, अब चाहू तो समेटू कैसे।

दूर आंधी में उड़ गया कफ़न, मैं मुर्दा रिश्तो की लाश को लपेटूँ कैसे।

Relationships tied with raw strings were shattered by sand, now how can you settle if you want?

The shroud flew away in the storm, how should I wrap the dead body of a dead relationship.

Tute Rishte Shayari

Tute Rishte Shayari - रिश्ते अगर दिल से निभाये होते,

रिश्ते अगर दिल से निभाये होते, तो शायद टूटते नहीं।

अहंकार को उभरने ना दिया होता, तो अपने रूठते नहीं।

If the relationship had been done from the heart, it might not have broken.

If you had not allowed the ego to rise, you would not have become angry.

Tute Rishte Shayari

Tute Rishte Shayari - मलाल किस बात करू,

मलाल किस बात करू, उसने कभी दिल से रिश्ते निभाए ही नहीं थे।

टूट गए सपने तो क्या, मुकम्मल होने वाले ख्वाब दिखाए ही नहीं थे।

What should I say sorry, he had never maintained a relationship with his heart.

What if the dreams were broken, the dreams to be fulfilled were not even shown.

Tute Rishte Shayari
Ulajha Rishta Suljhau Kaise – उलझा रिश्ता सुलझाऊ कैसे। Amazing Love Journey by G. Shastri Hindi Poems on Love, Loves Poem in Hindi. प्रेम कविता-तुम्हारी शिकायत Best Quotes About Poverty To Inspire Positive Change, Poverty Quotes Garibi Par Shayari In Hindi Poverty Status Kavita (Poverty)