Romantic Shayari, New Romantic Shayari

Romantic Shayari, New Romantic Shayari

Romantic Shayari, New Romantic Shayari
New Romantic Shayari

कितना प्यार आता है तुझ पर सनम, ब्यान करू कैसे।

ज़िदगी क्या जाँ क्या, सांसे बन गई हो तुम मेरी जैसे।

इसे जो समझो तुम समझ लो, महोब्बत कहो या शरारत का नाम दो।

बिच मझधार में अटका है दिल मेरा, कोई तो यार तुम इसे अंजाम दो।

कितना प्यार आता है………………………………

खिलखिलाती सुबह दो, यार खुशबू सी महकती शाम दो।

बहुत तड़पा है दिल दीवाना, अब तो यार इसे आराम दो।

कितना प्यार आता है………………………………………..

ख्यालों में तेरे खोया रहे, इसे ये काम दो।

महोब्बत का पूजारी, महबूब इसे नाम दो।

कितना प्यार आता है………………………………………..

सही जाये ना प्यास बड़ी है, इश्क़ का जाम दो।

तोड़ दो ख़ामोशी, बेबसी का सिलसिला थाम दो।

कितना प्यार आता है……………………………

How much love comes on you, Sanam, how can I explain?

What is life, you have become like me.

Whatever you understand, understand it, call it love or give it the name of mischief.

My heart is stuck in the middle of the middle, someone else, you do it.

How much love comes………………

Give a blooming morning, friend, give an evening smelling like fragrance.

The heart is crazy, now man, give it rest.

How much love comes………………………………..

You are lost in your thoughts, give it this work.

The worshiper of love, name it Mehboob.

How much love comes………………………………..

Don't go right, thirst is big, give a drink of love.

Break the silence, stop the cycle of helplessness.

How much love comes………………………