Tuesday, December 6, 2022

Gau Mata Shayari 2022 Status गाय पर शायरी Gau Raksha Attitude Shayari Whatsapp Status

Gau Mata Shayari - कहने को सब देवताओं का वास,

कहने को सब देवताओं का वास,

फिर क्यों लम्पी ने मारा है।

कान्हा के बिन कौन संभाले,

गौ वंश ने कन्हैया को पुकारा है।

To say that the abode of all the gods,

Then why has Lumpy killed?

Who can handle without Kanha?

The cow dynasty has called Kanhaiya.

गाय पर शायरी

Gau Mata Shayari - सतयुग में माँ का दर्जा मिला,

सतयुग में माँ का दर्जा मिला,

आज घर घर ने ठुकराया है।

जब से लगा ये चर्म रोग,

किसी ने ना ये दर्द उठाया है।

Got the status of mother in the golden age,

Today the house has rejected it.

Ever since this skin disease started,

No one has taken this pain.

गाय पर शायरी

Gau Mata Shayari - ना कोई सहारा, रूखा, सूखा,

ना कोई सहारा, रूखा, सूखा,

झूठा खा के होता गुजारा है।

कान्हा के बिन कौन संभाले,

गौ वंश ने कन्हैया को पुकारा है।

No support, dry, dry,

Live by eating a liar.

Who can handle without Kanha?

The cow dynasty has called Kanhaiya.

गाय पर शायरी

Gau Mata Shayari - कलयुग की महामारी के कष्टों से,

कलयुग की महामारी के कष्टों से,

काया मेरी उदास है।

कोई समझे मेरी पीड़ा,

तुझसा गोपाल ना कोई पास है।

From the sufferings of the epidemic of Kaliyuga,

My body is sad.

Somebody understand my pain

Tujhsa Gopal is no one nearby.

गाय पर शायरी

Gau Mata Shayari - मेरी आँखों से बहती है गंगा,

मेरी आँखों से बहती है गंगा,

जिसका दूर दूर तक ना किनारा है।

कान्हा के बिन कौन संभाले,

गौ वंश ने कन्हैया को पुकारा है।

Ganga flows from my eyes,

Whose far away has no edge.

Who can handle without Kanha?

The cow dynasty has called Kanhaiya.

गाय पर शायरी

Gau Mata Shayari - तुझसा कोई मिल जाये,

तुझसा कोई मिल जाये,

एक बार फिर गोकुल खिल जाये।

कलयुग में भी हो जाये कदर,

ऐसा कोई फलसफा मिल जाये।

find someone like you,

Gokul blooms once again.

Appreciate it even in Kaliyuga.

Get such a result.

गाय पर शायरी

Gau Mata Shayari - क्यों अर्ज सुनी ना गोकुल के ग्वाले,

क्यों अर्ज सुनी ना गोकुल के ग्वाले,

क्या तुझे मेरा ये दर्द गवारा है।

कान्हा के बिन कौन संभाले,

गौ वंश ने कन्हैया को पुकारा है।

Why didn’t you listen to the cowherds of Gokul?

Do you bear this pain of mine?

Who can handle without Kanha?

The cow dynasty has called Kanhaiya.

गाय पर शायरी

Related Articles

Stay Connected

9,734FansLike
255FollowersFollow
29FollowersFollow
1FollowersFollow
SubscribersSubscribe
- Advertisement -

Latest Articles