Friday, May 24, 2024
HomeAansu Shayari"Ek Aansu Jo Mera Apna - एक आंसू जो मेरा अपना" Sadness...

“Ek Aansu Jo Mera Apna – एक आंसू जो मेरा अपना” Sadness Poetry by G.Shastri: 

“Ek Aansu Jo Mera Apna – एक आंसू जो मेरा अपना”

“Ek Aansu Jo Mera Apna – एक आंसू जो मेरा अपना” Sadness Poetry by G.Shastri: is a poignant piece of poetry that delves into the profound emotions associated with a single tear. This poetic expression suggests a unique and personal connection to the tear, hinting at a story of individual pain, joy, or a momentous experience. The verses likely explore the depth of human emotions, offering a glimpse into the poet’s soul and the intimate relationship they share with a solitary teardrop. The poetry may unravel a narrative of vulnerability, resilience, or the intricate facets of the human experience encapsulated within the symbolism of a tear.

“Ek Aansu Jo Mera Apna – एक आंसू जो मेरा अपना”

एक आंसू जो मेरा अपना, बाकि जमाना प्यारा बहुत।

वो मेरा सब बन जाता है, हर रिश्ता निभाया बहुत।

A tear which is my own, the rest of the world is very dear to me.

He becomes my everything, fulfills every relationship very well.

“Ek Aansu Jo Mera Apna – एक आंसू जो मेरा अपना” छुपे दर्द की दास्ताँ,

छुपे दर्द की दास्ताँ, मेरी हर कहानी का हिस्सा है।

एक आंसू जो मेरा अपना, ज़िंदगी का वो किस्सा है।

Tales of hidden pain are a part of every story of mine.

A tear which is my own, that story of life.

“Ek Aansu Jo Mera Apna – एक आंसू जो मेरा अपना” कायनात से घबराता बहुत,

कायनात से घबराता बहुत, तन्हाई में चला आता आँखों के आँगन में।

एक आंसू जो मेरा अपना, कोई देखे तो छुप जाता है मेरे आँचल में।

Very scared of the universe, he comes to the courtyard of the eyes in loneliness.

A tear that is my own and if anyone sees it, it hides in my lap.

“Ek Aansu Jo Mera Apna – एक आंसू जो मेरा अपना” वादा ये अपना तोड़े ना,

वादा ये अपना तोड़े ना, कभी साथ मेरा छोड़े ना।

एक आंसू जो मेरा अपना, किसी सूरत मुँह मोड़े ना।

Don’t break your promise, don’t ever leave mine.

A tear which is my own, should not turn away under any circumstances.

“Ek Aansu Jo Mera Apna – एक आंसू जो मेरा अपना” मेरी तन्हाई में

मेरी तन्हाई में पलकों के रास्ते आ कर गालों को सहलाता है।

एक आंसू जो मेरा अपना, बेकरार मन मेरे को बहलाता है।

In my loneliness, he comes through the eyelids and caresses my cheeks.

A tear that soothes my own, desperate mind.

“Ek Aansu Jo Mera Apna – एक आंसू जो मेरा अपना” जो मिला बेवफा मिला,

जो मिला बेवफा मिला, मगर ये मुझ से वफ़ा करता है।

एक आंसू जो मेरा अपना, संग मेरे आहें भरता है।

Whoever I met was unfaithful, but this one is loyal to me.

A tear that is my own and sighs with me.

“Ek Aansu Jo Mera Apna – एक आंसू जो मेरा अपना” गुजरी बातों ने

गुजरी बातों ने जब – जब तड़पाया है, ये मुझे संभालने आया है।

एक आंसू जो मेरा अपना, अपना होने का अहसास दिलाया है।

Whenever the past has tormented me, he has come to take care of me.

A tear that has made me feel mine, my own.

“Ek Aansu Jo Mera Apna – एक आंसू जो मेरा अपना” फरेब किया ना कोई धोखा

फरेब किया ना कोई धोखा, हमसफ़र-ए-ज़िंदगी बन कर रहा है।

एक आंसू जो मेरा अपना, हमेशा मेरी बेकरारी में ये बहा है।

He has cheated, he is pretending to be a companion in life.

A tear that is my own is always shed in my despair.

Read More: – Tujh Par Haq Jatau Love Sad Poetry in Hindi

RELATED ARTICLES

Most Popular