Latest Shayari in Hindi Status Image for Whatsapp 3 sad sms.

Latest shayari in hindi

Latest Shayari in Hindi कोई ख़ुशी तो नहीं, मगर मेरी मज़बूरी है हसना।

कोई ख़ुशी तो नहीं, मगर मेरी मज़बूरी है हसना।

आदत बना ली है, रोक लेना आँसुओ का बहना।

दर्दों का तूफान मैं अन्दर समेटे हूँ,

टूटी हुई मूरत पर खुशियों का चोला लपेटे हूँ।

शायद यही थी मेरी तकदीर,

ज़िंदा होक भी सितमो की चिता पर लेते हूँ।

कुछ को यकीं हो,

मगर शायद किसी को अच्छा ना लगे मेरा ये कहना।

कोई ख़ुशी तो नहीं, मगर मेरी मज़बूरी है हसना।

उनका दावा हमेशा था की किया है बहुत प्यार।

जबकि कभी था ना तुझपे हमें ऐतबार।

ज़िंदगी गमगीन बनाके कहते रहे,

के है ना कोई हमसे बड़ा वफ़ादार।

के मज़बूरी हो गई झूठ से बने आसियाने में रहना।

कोई ख़ुशी तो नहीं, मगर मेरी मज़बूरी है हसना।

Latest shayari in hindi

तड़प तड़प के ख़ाख़ हुई मेरी जवानी,

सजा बन गई मेरे लिए मेरी ही मेहरबानी।

ना ज़िंदा हूँ ना मैं मर रहा,

ये है मेरी ज़िंदगी की कहानी।

नाक तक भर गया मैं, अब ना होगा ये सितम सहना।

कोई ख़ुशी तो नहीं, मगर मेरी मज़बूरी है हसना।

Latest shayari in hindi – One Side Love Shayari

More About Latest shayari in hindi

Latest shayari in hindi जानता था मैं

जानता था मैं हसल मेरा क्या होना है।

कर्मो की सजा पाई, अब बस रोना है।

टूट गया मेरा ऐतबार,

खुद से भी रहा ना प्यार।

एक तूफ़ां दर्द दे गया हज़ार,

तक़दीर ने भी अपनाने से कर दिया इन्कार।

बिछी काँटों की सेज, जिस पर मुझे सोना है।

जानता था मैं हसल मेरा क्या होना है।

किसको दोष दू आज मैं, ख़ता पर खता करता रहा।

कहीं हो ना जाऊ मैं बेघर इस बात से डरता रहा।

Latest shayari in hindi

आज वो दिन आया, हासिल किया खोना है।

जानता था मैं हसल मेरा क्या होना है।

मेरी वफ़ाओ का सिला मिल गया,

वज़ूद आज मेरा यारो मिट गया।

ये ही था अंजाम मेरी ज़िंदगी का,

वफ़ा के बदले तोहमत नशीब लिख गया।

क्या जानू कैसे ये तोहमत ऐ दाग धोना है।

जानता था मैं हसल मेरा क्या होना है।

Latest shayari in hindi – तुझसे दूर रहने में ही भलाई है,

तुझसे दूर रहने में ही भलाई है, संग तेरे बहुत हुई जगहसाई है।

नजदीकियां बढा के देख ली बहुत, तुझसे मिल मुझे रुसवाई है।

जब जब चाहा तुझपे यकीं करना, हर बार तूने यकीं मेरा तोड़ दिया।

बढ़ने ही ना दिये कदम खुशियों की तरफ, हर कदम ग़मो की और मोड़ दिया।

कैसी वफ़ा ये, जख्मो पर नमक छिड़कने से ना तू घबराई है।

तुझसे दूर रहने में ही भलाई है, संग तेरे बहुत हुई जगहसाई है।

हसना मैं भूल गया, संग दर्दो के ज़ी रहा हूँ ,

कैसी ये ज़िंदगी, आंसुओ को पी रहा हूँ।

बहुत ढाये जुल्मों सितम मुझ पर,

तन्हा अकेले दर्द ऐ सितम सी रहा हूँ।

तड़प तड़प के जीना , और मर मर के वफ़ा ऐ रश्म निभाई है।

तुझसे दूर रहने में ही भलाई है, संग तेरे बहुत हुई जगहसाई है।

Latest shayari in hindi

माने ना दिल ये वफ़ा करने से, बहुत मैं इसे समझाता हूँ।

फरेबी ज़माने से डरता हूँ, मैं इंसानों से घबराता हूँ।

रीत बनी ज़माने की, दर्दो का बोझ बढ़ाने की,

वफ़ा के बदले हर बार मैं ज़ख्मो को पाता हूँ।

याद आई गुजरी बातें, उन बातों से आँख मेरी भर आई है।

तुझसे दूर रहने में ही भलाई है, संग तेरे बहुत हुई जगहसाई है।

हमारी इस पोस्ट को पढ़ने के लिए आपका बहुत धन्यवाद और अधिक पढ़ने के लिए आप हमारी वेबसाइट के काटेगोरिएस सेक्शन में विजिट करे, यकीं मानिये आपको बहुत मज़ा आने वाला है।

Thank you very much for reading this post and to read more, you should visit the section section of our website, as if you are going to have a lot of fun.

One thought on “Latest Shayari in Hindi Status Image for Whatsapp 3 sad sms.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back To Top