दर्दे सितम हैं ………

दर्दे सितम हैं के थमने का नाम नहीं।

जख्मों को सीया बहुत, ख़ुशी का जाम नहीं।

किसको सुनाऊ मैं हाल ऐ दिल, कोई मेरा महबूब नहीं।

जी रहा हु के हु मैं जिन्दा, इतनी भी मुझे सूध नहीं।

बेकार पड़ा हु कोने में, फिर भी मुझे आराम नहीं।

दर्दे सितम हैं……………………..

बहुत कुछ कर गए हम, मगर किसी को कोई अहसान नहीं।

आंसुओ का उमड़ा सैलाब, कभी होठों पे मेरे मुस्कान नहीं।

मरे को मारना फितरत यारो की, के दूजा कोई काम नहीं।

दर्दे सितम हैं……………………..

बहुत किया बर्दास्त अब सहने की ताकत नहीं।

ना दर्द चाहिए ना सुनूं किसी ख़ुशी की चाहत नहीं।

थक गया इस ज़िंदगी से ढलती जीवन की शाम नहीं।

दर्दे सितम हैं……………………..

टूट गए सारे ख़्वाब, ज़िंदगी में कोई सपना नहीं।

हर कोई मतलबी यार, इस जहां में कोई अपना नहीं।

चले यारो, पीया जो ज़हर वो अमृत का जाम नहीं।

दर्दे सितम हैं……………………..

Spread the love

1 thought on “दर्दे सितम हैं ………”

  1. Pingback: Best panic Quotes, Status, Shayari, Sad Shayari | Best Sad SMS | New Sad Status - Hindi Shayari ये दिन ना कभी भूला जायेगा - HINDI SHAYARI

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *